ⓘ स्वास्थ्यविज्ञान - उल्टी, ओएमआईएम, कंपकंपी, चिकित्साशास्त्र, रोगजनक, विश्व स्वास्थ्य संगठन ..

उल्टी

आमाशय के अन्दर के पदार्थों को बलपूर्वक शरीर के बाहर निकालने की क्रिया को उल्टी या वमन कहते हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे कि गैस्ट्रीक, जहर या मस्तिष्क का ट्यूमर इत्यादि. अत्यधिक उल्टी से शरीर में जल की कमी जाती है; कभी कभी रोगी को शिराओं के माध्यम से जलीय घोल देना पड़ता है।

ओएमआईएम

OMIM, एक परियोजना है। इसके अन्तरगत मनुष्य मे होने सभी रोगों की एक सुची तैयार करना है तथा उनको मेंण्डल के आनुवांशिकता से जोडना है। इससे जीनो तथा उनसे सम्बंधित रोगो के संबधों को जानने में मदद मिलेगी। भविष्य में की जा सकनें वाली शोध कार्यों के लियें प्रचुर सुचनाएं उपलब्ध की जा सकेंगी।

कंपकंपी

कंपकंपी उष्ण रक्त के प्राणियों में ठंडक के प्रभाव से होने वाली प्रतिक्रिया है। जब शरीर के आन्तरिक भागों का तापमान गिरने लगता है तब कंपकंपी नामक प्रतिवर्ती क्रिया प्रारंभ हो जाती है। महत्वपूर्ण अंगो के घेरकर रखनेवाली मांस पेशियों में गरमी पैदा करने के लिए कंपकंपी होती है।

चिकित्साशास्त्र

चिकित्साशास्त्र आयुर्विज्ञान का एक क्षेत्र है। यह क्षेत्र अस्वस्थ्य मनुष्य को स्वस्थ्य बनाने से सम्बन्धित है। इस शास्त्र में अस्वस्थ्य मनुष्य का ब्याधि वा रोग का अध्ययन किया जाता है, उसके बाद उस ब्याधि को डायगनोज और उस का निवारण किया जाता है। यह क्षेत्र मानव और रोग का ज्ञान और उस का प्रयोजन दोनों से सम्बन्धित है।

रोगजनक

रोगजनक उन्हें कहा जाता है, जिनके कारण कई तरह के बीमारियों का जन्म होता है। इसमें विषाणु, जीवाणु, कवक, परजीवी आदि आते हैं। यह किसी भी जीव, पेड़-पौधे या अन्य सूक्ष्म जीवों को बीमाकर सकते हैं। मानव में जीवों के कारण होने वाले रोग को भी रोगजनक रोगों के रूप में जाना जाता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन

विश्व स्वास्थ्य संगठन विश्व के देशों के स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं पर आपसी सहयोग एवं मानक विकसित करने की संस्था है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के 194 सदस्य देश तथा दो संबद्ध सदस्य हैं। यह संयुक्त राष्ट्र संघ की एक अनुषांगिक इकाई है। इस संस्था की स्थापना 7 अप्रैल 1948 को की गयी थी। इसका उद्देश्य संसार के लोगो के स्वास्थ्य का स्तर ऊँचा करना है। डब्‍ल्‍यूएचओ का मुख्यालय स्विटजरलैंड के जेनेवा शहर में स्थित है। इथियोपिया के डॉक्टर टैड्रोस ऐडरेनॉम ग़ैबरेयेसस विश्व स्वास्थ्य संगठन के नए महानिदेशक निर्वाचित हुए हैं। वो डॉक्टर मार्गरेट चैन का स्थान लेंगे जो पाँच-पाँच साल के दो कार्यकाल यानी दस वर्षों तक ...