ⓘ अमर्ण पत्र मिस्और मित्तानी सम्राटों के बीच मे दूसरी सहस्राब्दि ईपू के हैं जिनसे उस समय के इतिहास पर बहुत प्रकाश पडता है। इनमें से कुछ पत्र तुष्यरथ और अखेनातेन क ..

                                     

ⓘ अमर्ण पत्र

English version: Amarna letters

अमर्ण पत्र मिस्और मित्तानी सम्राटों के बीच मे दूसरी सहस्राब्दि ईपू के हैं जिनसे उस समय के इतिहास पर बहुत प्रकाश पडता है। इनमें से कुछ पत्र तुष्यरथ और अखेनातेन के बीच के हैं।

                                     
  • जगद ग र श कर च र य श र स व म न र जनद व त र थ तथ मह त म र मचन द र व र क आमरण अनशन न आन द लन म प र ण फ क द य थ श र स त प रभ दत त ब रह मच र तथ
  • न अथक प रय स एव ल ब अनशन क य उन ह न 1957 म 11 प रध नमन त र क पत र ल ख उस समय न प ल व ब ह र तथ प र व उत तर प रद श क कई ज ल ब ढ व स ख
  • स कलन क अन स र 1931 म ब प क ल ख एक पत र म आइ स ट न न उनस म लन क इच छ जत ई थ आइ स ट न न पत र म ल ख थ - आपन अपन क म स यह स ब त कर
  • प र म क म ग डल न क ज वन क आध र बन कर ल ख गई ह यह द श क आज द क ल ए आमरण स घर ष करन क भ वन क अभ व यक त करत ह यह व यक त गत प र म पर र ष ट रप र म
  • आन ध र प रभ र ज य क प रम ख त ल ग - भ ष क सम च र पत र ह आन ध र प रद श क उर द भ ष क सम च र पत र म श म ल ह स य सत ड ल म न स फ ड ल रहन म - ए - दक खन
  • और आर क ट क ट थ उन ह न एमक ग ध क क छ ऐस भ पत र भ ज थ ज न ह क छ सम क षक प र म पत र कहत ह इन द न ल ग क र श त क फ व व द त रह
  • समक ष 16 स ल तक न र तर धरन - प रदर शन करत रह इस म द द पर 29 द न लम ब आमरण अनशन क ग ज स सद स ल कर भ रत य भ ष समर थक क झकझ र कर रख द य थ श र
  • र ज यप ल न व पक ष क न त र ज व ग ध क एक पत र ल ख ज सम कश म र क बढ त समस य ओ क ज क र थ उस पत र क जव ब म भ क छ नह आय 26 जनवर सन 1990
  • क आईस एस स त य गपत र द न क पत र ल ख एक पत र द शवन ध च त तर जन द स क ल ख क न त अपन म प रभ वत क यह पत र म लत ह क प त पर व र क ल ग
  • क न र म ण क म ग पर सरक र न ष क र यत क प रत र ध म अन न हज र न आमरण अनशन श र कर द य भ रष ट च र क ख ल फ उनक इस म ह म म अरव द क जर व ल