ⓘ अग्निमित्र शुंग वंश के राजा थे। कालिदास ने इसको अपने नाटक का पात्र बनाया है, जिससे प्रतीत होता है कि कालिदास का काल इसके ही काल के समीप रहा होगा। ..

                                     

ⓘ अग्निमित्र

English version: Agnimitra

अग्निमित्र शुंग वंश के राजा थे। कालिदास ने इसको अपने नाटक का पात्र बनाया है, जिससे प्रतीत होता है कि कालिदास का काल इसके ही काल के समीप रहा होगा।

                                     
  • क पश च त उसक प त र अग न म त र श ग व श क र ज ह आ वह व द श क उपर ज थ उसन क ल वर ष तक श सन क य अग न म त र क ब द वस ज य ष ठ र ज ह आ
  • व दर भर ज न अग न म त र क अध नत क स व क र नह क य द सर ओर क म र म धवस न यद यप यज ञस न क सम बन ध चच र भ ई थ परन त अग न म त र न उस अपन
  • प ष यम त र क म त य ह ई और उसक प त र अग न म त र स ह सन पर ब ठ उसक प छ प ष यम त र क भ ई स ज य ष ठ और फ र अग न म त र क प त र वस म त र गद द पर ब ठ
  • ह च क क ल द स न द व त य श ग श सक अग न म त र क न यक बन कर म लव क ग न म त रम न टक ल ख और अग न म त र न ईस प र व म श सन क य थ अत क ल द स
  • श ग क भ एक र जध न थ जह स न पत प ष यम त र श ग क प त र र ज अग न म त र श सन करत थ जब म लव स भवत: स क दर और च द रग प त क च ट स र व क
  • स म र ज य क व भ न न क ष त र म सह - श सक न य क त कर रख थ और उसक प त र अग न म त र व द श क उपर ज थ धनद व क शल क र ज यप ल थ र जक म र ज स न क स च लक
  • क फ प ए ज त ह क ल द स क म लव क ग न म त रम स पत चलत ह क अग न म त र न ज ब र ह मण थ क षत र ण म लव क स व व ह क य थ च द रग प त द व त य