ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 72

छवि विभेदन

छवि विभेदन किसी छवि की बारीकियों का विस्तार से वर्णन करता है। यह शब्द अंकीय छवियों, फिल्म छवियों और अन्य कई प्रकार की छवियों पर लागू होता है। उच्च विभेदन का अर्थ किसी छवि में अधिक बारीकियों का होना है। छवि विभेदन का मापन विभिन्न तरीकों से किया जा ...

अंकीय संकेत प्रक्रमण

संकेत प्रक्रमण या संकेत प्रसंस्करण दो तरह से किया जाता है: अनुरूप संकेत प्रसंस्करण एवं अंकीय संकेत प्रक्रमण संकेतों सिग्नल्स् को आंकिक विधियों का प्रयोग करते हुए प्रसंस्कारित करना अंकीय संकेत प्रक्रमण या डिजिटल सिग्नल प्रोसेसिंग डीएसपी कहलाता है। ...

स्क्रेमजेट

स्क्रेमजेट रैमजेट एयरब्रीदिंग जेट इंजन का एक संस्करण है जिसमें दहन सुपरसोनिक एयरफ्लो में होता है। रैमजेट की ही तरह यह भी हाई वेलोसिटी स्पीड पर निर्भर रहता है ताकि हवा को कमबशन से पहले बलपूर्वक दबाया जा सके, लेकिन रैमजेट हवा की गति को कमबशन से पहल ...

आरएलवी टेक्नोलॉजी डेमोंस्ट्रेशन प्रोग्राम

पुन: प्रयोज्य प्रक्षेपण यान-प्रौद्योगिकी प्रदर्शन कार्यक्रम, रीयूज़ेबल लांच व्हीकल टेक्नोलॉजी डेमोंसट्रेटर प्रोग्राम, या RLV-TD, भारत का प्रौद्योगिकी प्रदर्शन मिशन है जो टू स्टेज टू ऑर्बिट को समझने व पुन: प्रयोज्य प्रक्षेपण वाहन की दिशा में पहले ...

एंडेवर अंतरिक्ष शटल

एंडेवर अंतरिक्ष शटल और उसके सात सदस्यों वाला क्रू अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन में जापान-निर्मित पोर्च लगाने के लिए १६ दिनों के मिशन पर जा रहा है। यह एक अंतरिक्ष शटल है।

डिस्कवरी अंतरिक्ष यान

डिस्कवरी अंतरिक्ष यान अमेरिकी अंतरिक्ष संस्था नासा के बेड़े में तीन वर्तमान में परिचालित परिक्रामकों में से एक है। दो अन्य अंतरिक्ष यान है अटलांटिस और एंडियावर। जब १९८४ में डिस्कवरी ने पहली बार उडा़न भरी थी, तब यह तीसरा परिक्रामक था और अब ये सेवा ...

चंद्रयान-२

चंद्रयान-२ या द्वितीय चन्द्रयान, चंद्रयान-1 के बाद भारत का दूसरा चन्द्र अन्वेषण अभियान है, जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसन्धान संगठन ने विकसित किया है। अभियान को जीएसएलवी संस्करण 3 प्रक्षेपण यान द्वारा प्रक्षेपित किया गया। इस अभियान में भारत में निर्म ...

प्रज्ञान (रोवर)

प्रज्ञान रोवर भारत द्वारा विकसित किया गया एक अंतरिक्ष रोवर हैं। इसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन बनाया गया है। इसे चन्द्रयान 2 के साथ 22 जुलाई 2019 को लॉन्च किया गया। प्रज्ञान जिसका अर्थ संस्कृत में बुद्धिमत्ता है। और यह चंद्रयान 2 मिशन का तीसर ...

जीपीएस ऐडेड जियो ऑगमेंटिड नैविगेशन

गगन के नाम से जाना जाने वाला यह भारत का उपग्रह आधारित हवाई यातायात संचालन तंत्र है। अमेरिका, रूस और यूरोप के बाद 10 अगस्त 2010 को इस सुविधा को प्राप्त करने वाला भारत विश्व का चौथा देश बन गया।

दिक्चालन

दिक्चालन किसी वाहन की एक स्थान से दूसरे स्थान पर गति की योजना, अध्ययन एवं उस पर नियंत्रण को कहते हैं। इसका अंग्रेजी शब्द navigate अपने लैटिन मूल navis अर्थात नौका से निकला है। इसी प्रकार इसका हिंदी में मूल शब्द है नौवहन या नौसंचालन जिसका अर्थ भी ...

दिक्सूचक

दिक्सूचक या कुतुबनुमा दिशा का ज्ञान कराता है। चुम्बकीय दिक्सूचक उत्तरी ध्रुव की दिशा की ओर संकेत करता है। ठीक-ठीक कहें तो चुम्बकीय उत्तरी ध्रुव। दिक्सूचक महासागरों और मरुस्थलों में दिशानिर्देशन के बहुत काम आता है, या उन स्थानो पर भी जहाँ स्थानसूच ...

दिगंश

दिगंश या ऐज़िमुथ किसी गोलीय निर्देशांक प्रणाली में एक विशेष कोण के माप का नाम है। उदाहरण के लिए, अगर धरती पर खड़े किसी दर्शक के लिए किसी तारे का दिगंश मापना हो तो खगोलीय निर्देशांक पद्धति के अनुसार यह किया जा सकता है। इसमें दर्शक को खगोलीय गोले क ...

निष्कर्षण

जल की विद्यमान गहराई के बढ़ा, बंदरगाह, नदी, नहर और सागरतट से दूर जलक्षेत्रों को नौचालन के योग्य गहरा बनाने और उस गहराई को बनाए रखने, समुद्री संरचनाओं के लिए नींव डालने, नदियों को गहरी, चौड़ी या सीधी करने, सिंचाई के लिए नहर काटने और निम्न तल पर स् ...

नॉट (इकाई)

1 अन्तर्राष्ट्रीय नॊट = 1 नॊटिकल अन्तर्राष्ट्रीय नॊट = 1.852 किलोमीटर प्रति घंटा यथार्थतः, या लगभग 1 अन्तर्राष्ट्रीय नॊट = 1.1507794 अन्तर्राष्ट्रीय नॊट = 0.51444444 मीटर प्रति सैकिण्ड

प्रकाशस्तम्भ

दीपस्तंभ, दीपघर, या प्रकाशस्तंभ, समुद्रतट पर, द्वीपों पर, चट्टानों पर, या नदियों और झीलों के किनारे प्रमुख स्थानों पर जहाजों के मार्गदर्शन के लिए बनाए जाते हैं। इनसे रात के समय प्रकाश निकलता है। यह किसी भी प्रणाली से प्रकाश किरण प्रसारित करती है। ...

संदर्भ विन्यास

संदर्भ विन्यास एक ऐसी निर्देशांक पद्धति या अक्षों का समूह है जिनमे किसी वस्तु का स्थान, अभिविन्यास और अन्य गुणों को मापा जा सकता है।

समुद्री मील

नॉटिकल मील या समुद्री मील लम्बाई की इकाई है। यह अक्षांश रेखा के एक मिनट के बराबर है। यह गैर-SI इकाई है, जो खासकर नौसंचालकों द्वारा नौसंचालन और वैमानिकी में प्रयोग की जाती है।

मंगलयान

मंगलयान, भारत का प्रथम मंगल अभियान है। यह भारत की प्रथम ग्रहों के बीच का मिशन है। वस्तुत: यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की एक महत्वाकांक्षी अन्तरिक्ष परियोजना है। इस परियोजना के अन्तर्गत 5 नवम्बर 2013 को 2 बजकर 38 मिनट पर मंगल ग्रह की परिक्रम ...

माइक्रोसैट-आर

माइक्रोसैट-आर रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन द्वारा निर्मित और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा प्रक्षेपित किया गया पृथ्वी अवलोकन उपग्रह था। जिसका उपयोग सैन्य उपयोग के लिए किया गया था।

मंगल 2एमवी-4 सं.1

मंगल 2एमवी-4 सं.1 एक सोवियत अंतरिक्ष यान था। जिसे मंगल कार्यक्रम के हिस्से के रूप में 1962 में लांच किया गया था। और इसका मंगल ग्रह का एक फ्लाइब्य बनाने का इरादा था। यह ग्रह से पृथ्वी पर चित्रों को भेजने का कार्य करता। रॉकेट लांच समस्या के कारण यह ...

टू स्टेज टू ऑर्बिट

टू स्टेज टू ऑर्बोट प्रक्षेपण यान एक अंतरिक्ष यान होता है, जिसमें दो अलग चरणों के द्वारा आदेशीय कक्षीय वेग को प्राप्त करने के लिए लगातार प्रणोदन प्रदान किया जाता है। यह तीन चरण के कक्षा लांचर और एकल चरण के लिए कक्षा लांचर का मध्यवर्ती है। लिफ्टऑफ ...

एक्सपेंडेबल लांच सिस्टम

एक्सपेंडेबल लॉन्च सिस्टम एक प्रकार का प्रक्षेपण तंत्र है जो किसी पेलोड को ले जाने के लिए एक्सपेंडेबल लॉन्च व्हीकल का प्रयोग करता है। एक्सपेंडेबल लॉन्च सिस्टम्स में जिन वाहनों का प्रयोग किया जाता है उन्हें एक बार के इस्तेमाल के लिए ही बनाया जाता ह ...

लांग मार्च 11

लांग मार्च 11 या चांग झेंग 11 एक चीनी ठोस ईंधन वाला वाहक रॉकेट है जिसे चीन एयरोस्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी कार्पोरेशन द्वारा विकसित किया गया है। इसकी पहली उड़ान 25 सितंबर, 2015 को हुई। यह पृथ्वी की निचली कक्षा में 700 कि॰ग्राम तथा सूर्य समकालिक कक ...

नदीशीर्ष

नदीशीर्ष या जलशीर्ष किसी नदी या झरने का आरम्भिक स्थान होता है। भूगोल में नदीशीर्ष की परिभाषा है कि यह किसी नदी के मार्ग का वह बिन्दु होता है जो उस नदी के अन्तबिन्दु से सबसे अधिक दूर हो। अक्सर यह कोई झील, चश्मा या हिमानी होती है। अगर दो नदियाँ मिल ...

संगम

संगम के अन्य अर्थों के लिये यहां जाएं - संगम संगम का अर्थ है मिलन, सम्मिलन। भूगोल में संगम उस जगह को कहते हैं जहाँ पानी की दो या दो से अधिक धाराएँ मिल रही होती हैं। जैसे इलाहाबाद में गंगा, यमुना के मिलन स्थल को त्रिवेणी संगम कहते हैं।

तरल

तरल का अर्थ होता है बहने वाला। भौतिकी में तरल की श्रेणी में द्रव और गैस दोनों आते हैं, क्योंकि दोनों ही बहते हैं। वैज्ञानिक दृष्टि से प्लाज़्मा भी तरल पदार्थों की श्रेणी में शामिल है। भौतिकी की वह शाखा जिसमें तरल का अध्ययन होता है तरल यांत्रिकी क ...

रेनल्ड्स संख्या

तरल गतिकी में, रेनल्ड्स संख्या एक अविम संख्या है जो तरल के प्रवाह की विभिन्न स्थितियों में समान प्रवाह पैटर्न का आकलन करने में मदद करता है। इसकी परिभाषा निम्नलिखित है- R e = inertial forces viscous forces = ρ v L μ = v L ν {\displaystyle \mathrm ...

सोलेनोइदल वेक्टर

वेक्टर में एक सोलेनोइदल वेक्टर क्षेत्र, वेक्टर क्षेत्र है जिसका विचलन उस क्षेत्र में हर जगह शून्य होता है।

हार्टमान संख्या

हार्टमान संख्या विद्युत्चुम्बकीय बल और श्यान बल का अनुपात है जिसे सबसे पहले हार्टमान ने काम में लिया। इसे निम्न प्रकार परिभाषित किया जाता है: H a = B L σ μ {\displaystyle \mathrm {Ha} =BL{\sqrt {\frac {\sigma }{\mu }}}} जहाँ μ गतिकीय श्यानता है। ...

तलछट

तलछट ऐसी प्राकृतिक सामग्री होती है जो अपक्षय और अपरदन की प्रक्रिया से टूटकर छोटे अंशों या कणों में बन जाए और फिर जल, हिम या वायु के बहाव के साथ एक स्थान से बह जाए और किसी अन्य स्थान में जाकर गुरुत्वाकर्षण के प्रभाव से जमा हो जाए। नदियाँ और हिमानि ...

चोर बालू

चोर बालू रेत, मिट्टी या अन्य किसी महीन कण वाले पदार्थ का भारी मात्रा में जल के साथ बना मिश्रण होता है। यह अक्सर विश्व के कच्छभूमि और दलदल क्षेत्रों में कई स्थानों पर प्राकृतिक रूप से पाया जाता है। अक्सर यह देखने में साधारण कीचड़ जैसा लग सकता है ल ...

बंधिका

बंधिका या उद्रोध का अर्थ है रोक। नदी के आर पास ऐसा बाँध या रोक जिसके कारण नदी में एक ओर जल का तल ऊँचा हो जाए और जिसके ऊपर से अतिरिक्त जल बह सके, उद्रोध कहलाता है। मछुए लोग नदी में मछली पकड़ने के लिए लकड़ियों की जो दीवार खड़ी कर लेते हैं वह भी कही ...

बाँध

बाँध एक अवरोध है जो जल को बहने से रोकता है और एक जलाशय बनाने में मदद करता है। इससे बाढ़ आने से तो रुकती ही है, जमा किये गया जल सिंचाई, जलविद्युत, पेय जल की आपूर्ति, नौवहन आदि में भी सहायक होती है।

उम्मेद सागर बाँध

उम्मेद सागर बाँध राजस्थान के जोधपुर जिले का एक बाँध है। यह कायलाना झील के नजदीक है तथा शाहपुरा के लिए पानी की आपूर्ति करती है। इसका निर्माण महाराजा उम्मेद सिंह ने अपने शासन काल में सन 1933 ई. में करवाया था।

जगर बाँध

जगर बांध एक प्राकृतिक बांध है जो राजस्थान राज्य के हिण्डौन में जगर गांव के पास स्थित है सिंचाई और पानी की आपूर्ति के उद्देश्य के लिए 1957 में पूरा किया गया।

विश्व बाँध आयोग

विश्व बाँध आयोग अप्रैल 1997 से 2001 के दौरान स्थापित हुआ था। इसका उद्देश्य बड़े बांधों के पर्यावरण तथा सामाजिक और आर्थिक प्रभाव की जाँच करना था। इस आयोग में नागरिक समाज, शिक्षा जगत के सदस्य, निजी क्षेत्र, पेशेवर संघ और एक सरकारी प्रतिनिधि शामिल थ ...

अवकेन्द्र

अवकेन्द्र वह बिन्दु होता है जहाँ से किसी भूकम्प या भूमिगत परमाणु विस्फोट का आरम्भ हुआ हो। भूकम्पों में अवकेन्द्र वह स्थान होता है जहाँ शिलाओं में उपस्थित विरुप्यण ऊर्जा सबसे पहले मुक्त होती है और जहाँ से भ्रंश फटना आरम्भ हो जाता है। यह बिन्दु पृथ ...

उपरिकेंद्र

उपरिकेन्द्र पृथ्वी या किसी अन्य ग्रह की सतह पर स्थित वह बिन्दु होता है जो किसी भूकम्प या भूमिगत परमाणु विस्फोट के आरम्भ होने वाले स्थान से ठीक ऊपर सतह स्थित हो। सतह के नीचे वाल वह स्थान जहाँ यह भूकम्प या विस्फोट आरम्भ हुआ हो उसे अवकेन्द्र कहते हैं।

भूकंपीय माइक्रोजोनिंग

माइक्रोजोनिंग का अर्थ सूक्ष्म वर्गीकरण करना होता है। इसमें सतह की जमीन की संरचना की जांच की जाती है। भूकंप के समय इमारत का भविष्य काफी कुछ तक जमीन की संरचना पर भी निर्भर करता है। यदि भवन किसी नमी वाली सतह पर बना है यानी रिज क्षेत्र या किसी ऐसी मि ...

मेर्साली तीव्रता परिमाप

मेर्साली तीव्रता परिमाप एक पैमाना है जो भूकम्पीय तीव्रता को मापने के काम में लाया जाता है। इसका नाम इसके विकासकर्ता, जियूसीप्पी मेर्साली के नाम पर रखा गया जो एक इतालवी ज्वालामुखीविद था। मेर्साली तीव्रता परिमाप भूकम्प को मापने के अन्य परिमापो जैसे ...

चेनानी-नाशरी सुरंग

चेनानी-नाशरी सुरंग जिसे पत्नीटॉप सुरंग के नाम से भी जाना जाता है, भारतीय राज्य जम्मू और कश्मीर के राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 44 पर स्थित एक सड़क सुरंग है। इसका कार्य वर्ष 2011 में आरम्भ हुआ तथा उद्धघाटन 2 अप्रैल 2017 को किया गया। यह भारत की सबसे ल ...

कुट्टिम

संस्कृत में कुट्ट का अर्थ प्रहार कर-कर के ठूसकर सख़्त कर देने को कहते हैं और इस तरह से निर्मित किसी वस्तु को कुट्टिम कहते हैं। आधुनिक काल में यह शब्द हर प्रकार की ऐसी सख़्त सतह के लिए प्रयोगित है जो चलने या वाहन चलाने के लिए इमारतों से बाहर खुले ...

ऐस्फाल्ट

ऐस्फाल्ट एक चिपचिपा, काला और गाढ़ा तरल या अर्ध-तरल पदार्थ होता है, जिसे कच्चे पैट्रोलियम से प्राप्त किया जाता है। यह प्राकृतिक रूप से भी मिलता है। पहले इसे अस्फाल्टम भी कहा जाता है। इसका प्रयोग सड़क निर्माण, उड़ान पट्टी निर्माण इत्यादि में होता ह ...

परतदार पत्थर

स्लेट महीन कणों वाला रूपान्तरित शैल है। यह बेलबूटेदाऔर समांगी होती है। इसका उत्पादन देश में केवल मध्यप्रदेश में होता है ।

बजरी

बहुत छोटे पत्थर को कंकड़ कहते हैं। शैलों के छोटे-छोटे टुकड़ों को बजरी या कंकड़ कहते हैं। यहेक महत्वपूर्ण वाणिज्यिक पदार्थ है जो बहुत से कार्यों में प्रयुक्त होता है। यह सड़कों के उपरी तल पर बिछाने, प्लेटफॉर्म बनाने, कंक्रीट के निर्माण आदि के काम ...

फर्श

फर्श भवन का वह अंग है जो चलने-फिरने के काम आता है। कच्ची मिट्टी के फर्श से लेकर आधुनिक तकनीक से बने बहु-स्तरीय फर्श तक अनेकों प्रकार के फर्श होते हैं। अच्छे फर्श से भवन की शोभा ही नहीं बढ़ती वरन् उसे आसानी से साफ सुथरा रखा जा सकता है। फर्श पत्थर, ...

बुर्ज

बुर्ज ऐसी ईमारत या ढाँचे को कहते हैं जिसकी ऊँचाई उसकी चौड़ाई से काफ़ी अधिक हो। अगर ढांचा ज़्यादा ऊंचा हो तो उसे मीनार कहा जाता है, हालांकि साधारण बोलचाल में कभी-कभी बुर्ज और मीनार को पर्यायवाची शब्दों की तरह प्रयोग किया जाता है। बहुत ही कम चौड़ाई ...

संतरी बुर्ज

संतरी बुर्ज या पर्यवेक्षण बुर्ज ऐसे बुर्ज को कहा जाता है जिसका प्रयोग आसपास के क्षेत्पर निगरानी रखने के लिए किया जाता हो। अक्सर ऐसे संतरी बुर्जों का प्रयोग फ़ौजी या जेल सम्बन्धी कारणों से किया जाता है। जहाँ बहुत से साधारण बुर्ज किसी ईमारत के साथ ...

बुनियाद

दीवार, खंभे तथा भवन और पुलों के आधारस्तंभों का भार उनकी नींव अथवा बुनियाद द्वारा पृथ्वी पर वितरित किया जाता है। अत: निर्माण कार्य में बुनियाद, बहुत महत्वपूर्ण अंग है। अगर बुनियाद कमजोर हो, तो पूरे भवन अथवा पुल के भारवाहन की शक्ति बहुत कम हो जाती ...

स्तम्भ

वास्तु तथा संरचना इंजीनियरी में स्तम्भ वह संरचनात्मक अवयव है जो स्वयं संपीडित होकर अपने ऊपर आने वाले छत आदि का भार अपने नीचे के अवयवों पर ट्रांसफर कर देता है। अतः स्तम्भ एक संपीडन अवयव है जो उर्ध्वाधर खड़ा रहता है। किन्तु भूकम्प इंजीनियरी की दृष् ...