ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 370

आचार्य किशोर कुणाल

आचार्य किशोर कुणाल सेवानिवृत भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी तथा संस्कृत अध्येता हैं। वे बिहार राज्य धार्मिक न्यास बोर्ड के अध्यक्ष हैं। वे पटना के महावीर मन्दिर न्यास के सचिव भी हैं। वे पटना के ज्ञान निकेतन नामक प्रसिद्ध विद्यालय के संस्थापक भी हैं।

आचार्य रामेश्वर झा

आचार्य रामेश्वर झा संस्कृत के विद्वान एवं न्याय, व्याकरण एवं वेदान्त के अधिकारी विद्वान थे। बाद में वे अद्वैत शैववाद के प्रतिपादक बन गये तथा वाराणसी में कश्मीरी शैव सम्प्राय का प्रचार-प्रसार किया।

आचार्य विश्वबन्धु शास्त्री

आचार्य विश्वबन्धु शास्त्री एक भारतीय वैदिक विद्वान, लेखक, शिक्षाविद और दयानन्द ब्राह्म महाविद्यालय के प्राचार्य थे, जो डी ए वी कॉलेज ट्रस्ट और प्रबन्धन सोसायटी के प्रबन्धन के तहत एक संस्थान था। १९६८ में भारत सरकार ने उन्हें पद्मभूषण से सम्मानित किया।

उदयवीर शास्त्री

आचार्य उदयवीर शास्त्री भारतीय दर्शन के उद्भट विद्वान् थे। उन्होने कपिल मुनि के प्राचीन सांख्य, गोतम मुनि के न्याय पर बहुत शोधपरक काम किया है जिसके लिए सन् १९५० के दशक में उन्हें भारत के कई राज्यों से पुरस्कार मिले। अपने जीवन के तीसरे दशक मे वो ला ...

एन एस रामानुज ताताचार्य

१. शाब्दबोधमीमांसा २. कतिपयपदानां शक्तिविचारः ३. शाब्दबोधोपयोगिव्युत्पत्तीनां सोदाहरणं निरूपणम् ४. तर्कसंग्रहशाब्दबोधः ५. शाब्दबोधप्रक्रिया ६. पंचलक्षणी सिंहव्याघ्रलक्षणे च ७. तत्त्वचिन्तामणिः ८. प्रत्यक्षतत्त्वचिन्तामणिविमर्शः ९. तत्त्वचिन्तामणि ...

कपिलदेव द्विवेदी

डॉ कपिलदेव द्विवेदी वेद, वेदाङ्ग, संस्कृत व्याकरण एवं भाषाविज्ञान के अप्रतिम विद्धान थे। उन्होंने इन विषयों पर ७५ से अधिक ग्रंथ लिखे। आपने स्वतंत्रता संग्राम में भी भाग लिया था तथा ६ माह तक कठोर कारावास भोगा था। वे गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय क ...

चन्द्रकान्त बाली

पंडित चन्द्रकान्त बाली संस्कृत साहित्य मर्मज्ञ एवं कालगणना विशेषज्ञ माने जाते हैं। 1914 में मुलतान में जन्मे पं॰ बाली की गिनती मुलतान के चोटी के विद्वानों में होती थी। "प्रबंध पंचनद", "दोहा मानसरोवर", "पंजाब प्रान्तीय हिन्दी साहित्य का इतिहास", " ...

चिन्तामणि विनायक वैद्य

चिन्तामणि विनायक वैद्य संस्कृत के विद्वान तथा मराठी लेखक एवं इतिहसकार थे। कुछ समय तक वे ग्वालियर राज्य के मुख्य न्यायाधीश भी थे। १९०८ में उन्होने पुणे में मराठी साहित्य सम्मेलन की अध्यक्षता की थी। बाद में बालगंगाधर तिलक के नेतृत्व वाली कांग्रेस ल ...

जयदेव वेदालंकार

डॉ॰ जयदेव वेदालंकार दर्शनशास्‍त्र, वैदिक साहित्य, धर्म और संस्‍कृति के उद्भट्ट विद्वान हैं। इन्‍होंने अनेक ग्रन्‍थों की रचना की है। वे गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के अनेक उच्‍च पदों जैसे डीन प्राच्‍यविद्या संकाय, प्रोफेसर एवं अध्‍यक्ष दर्शन विभ ...

जोनराज

जोनराज १५वीं सदी के एक कश्मीरी इतिहासकाऔर संस्कृत कवि थे। उन्होंने द्वितीय राजतरंगिणी नामक इतिहास-ग्रन्थ लिखा जिसमें उन्होंने कल्हण की राजतरंगिणी का सन् ११४९ तक का वृत्तान्त जारी रखते हुए अपने समकालीन सुल्तान ज़ैन-उल-अबिदीन​ उर्फ़ बुड शाह तक का व ...

ब्रह्मदत्त जिज्ञासु

पण्डित ब्रह्मदत्त जिज्ञासु संस्कृत के विद्वान तथा वैदिक साहित्य के शिक्षक था उसने राष्ट्रीय पण्डित की पदवी से सम्मानित किया गया था। और उसने संस्कृत पठन-पाठन की सरलतम विधि विकसित की थी जो पाणिनि के अष्टाध्यायी पर आधारित था।

महेश चन्द्र नारायण भट्टाचार्य

महामहोपाध्याय पण्डित महेश चन्द्र नारायण भट्टाचार्य संस्कृत के विद्वान तथा कोलकाता के संस्कृत कॉलेज के प्रधानाचार्य थे। वे ईश्वर चन्द्र विद्यासागर के मित्और सहकर्मी थे। उन्होने बंगाल के नवजागरण में महती भूमिका निभायी। १९वीं शताब्दी के कोलकाता के स ...

युधिष्ठिर मीमांसक

महामहोपाध्याय पंडित युधिष्ठिर मीमांसक संस्कृत के प्रसिद्ध विद्वान् तथा वैदिक वाङ्मय के निष्ठावान् समीक्षक थे। उन्होने संस्कृत के प्रचार-प्रसार में अपना अमूल्य योगदान दिया।

राजवीर शास्त्री

पण्डित राजवीर शास्त्री संस्कृत के विद्वान, अध्यापक, साहित्यकार तथा आर्यसमाज के कार्यकर्ता थे। मनुस्मृति में किए गये प्रक्षेपों पर अनुसन्धान करके उन्होने विशुद्ध मनुस्मृति नामक ग्रन्थ सम्पादित किया। आप दयाननद-सन्देश पत्र का अनेक वर्षों तक अवैतनिक ...

राम अवतार शर्मा

महामहोपाध्याय पण्डित राम अवतार शर्मा संस्कृत के विद्वान, भारतविद् तथा इतिहासकार थे। अपनी विद्वत्ता और तार्किकता के कारण वे पूरे देश में विख्यात थे। वे संस्कृत, हिन्दी, अंग्रेजी, फ्रेंच, जर्मन, लैटिन सहित भारत की अनेक भाषाओं के ज्ञाता थे। उन्होने ...

लुड्विक स्टर्नबाख्

डा. लुड्विक् स्टर्नबाख् अनेक भाषाओं के ज्ञाता तथा संस्कृत के प्रकाण्ड पण्डित थे। अनेक ग्रन्थों को लिखने पर भी आपने अपने जीवन में जो महान् कार्य किया वह था, उनका सम्पूर्ण संस्कृत साहित्य से सुभाषितों का संकलन। आपने भारत तथा विदेशों से उपलब्ध संस्क ...

वेंकटरमण राघवन

वेंकटरमण राघवन एक संस्कृत विद्वान तथा संगीतज्ञ थे। उन्हें पद्मभूषण, संस्कृत के लिये साहित्य अकादमी पुरस्कार सहित कई पुरस्कार प्रदान किये गये थे। उन्होने १२० से अधिक पुस्तकों की रचना की तथा १२०० से अधिक लेख लिखे। इनके द्वारा रचित एक सौन्दर्यशास्त् ...

शिवकर बापूजी तलपदे

शिवकर बापूजी तलपदे एक भारतीय विद्वान थे। उन्होंने १८९५ में उन्होने मानवरहित विमान का निर्माण किया था वे मुम्बई के निवासी थे तथा संस्कृत साहित्य एवं चित्रकला के अध्येता थे।

शिवराज आचार्य कौण्डिन्न्यायन

शिवराज अाचार्य काैण्डिन्न्यायन विशिष्ट संस्कृत विद्वान्, वैदिक, शिक्षाशास्त्री, कल्पशास्त्रमर्मज्ञ, उत्कृष्ट भाषाशास्त्री, वैयाकरण, काेषकार, वेदांगज्याेतिषविद्, मीमांसक, वेदान्तज्ञ हैं। इन्हाेंने संस्कृत शिक्षा के सुधार के लिए लम्बा संघर्ष किया। ...

श्रीपाद कृष्ण बेलवेलकर

श्रीपाद कृष्ण बेलवलकर का जन्म सन्‌ 1880 में हुआ। बचपन में सारी शिक्षा दीक्षा राजाराम हॉयर स्कूल और कालेज, कोल्हापुर तथा डेक्कन कॉलेज, पूना, में हुई। कुशाग्र बुद्धि होने के कारण परीक्षाओं में उत्तम स्थान प्राप्त करते रहे। सन्‌ 1902 में बी. ए. उत्त ...

सम्पदानन्द मिश्र

सम्पदानन्द मिश्र भारत के एक संस्कृत-विद्वान हैं। वे मूलतः ओडिसा के निवासी हैं और सम्प्रति पुद्दुचेरी में रहते हैं जहाँ वे भारतीय सांस्कृतिक श्री अरविन्द फाउण्डेशन के निदेशक हैं। उनकी योजना वन्दे मातरम् पुस्तकालय शुरू करने की है जो मुक्तस्रोत तथा ...

सुशील कुमार दे

सुशील कुमार दे भारत के बहुज्ञानी थे। उनकी शिक्षा एक वकील के रूप में हुई थी और उनकी डिग्री अंग्रेजी तथा संस्कृत काव्यशास्त्र में थी किन्तु उन्होने संस्कृत साहित्य, दर्शन, काव्यशास्त्र, बंगला साहित्य के इतिहास पर लिखा। इसके अतिरिक्त उन्होने पाण्डुल ...

हरनामदत्त शास्त्री

हरनामदत्त शास्त्री संस्कृत व्याकरण के विद्वान थे। इनका जन्म जगाधरी में हुआ था। इनके पिता का नाम मुरारिदत्त था। वाराणसी में शिक्षा प्राप्त करने के पश्चात आप पाणिनि व्याकरण शास्त्र के प्रख्यात भाष्याचार्य हुए। आप चूरु में स्थापित हरनामदत्त शास्त्री ...

हरप्रसाद शास्त्री

महामहोपाध्याय हरप्रसाद शास्त्री भारत के एक शिक्षाशास्त्री, संस्कृत के विद्वान, भारतविद तथा बांग्ला साहित्य के इतिहासकार थे। उनका मूल नाम हरप्रसाद भट्टाचार्य था। वे चर्यापद की खोज के लिये प्रसिद्ध हैं, जो बंगला साहित्य का सबसे प्राचीन उदाहरण है।

श्री सोमनाथ संस्कृत विश्वविद्यालय

श्री सोमनाथ संस्कृत विश्वविद्यालय गुजरात के सौराष्ट्र विभाग में गीर-सोमनाथ जिले में स्थित एक विश्वविद्यालय है। यह गुजरात राज्य का एकमात्र संस्कृत विश्वविद्यालय है।" पूर्णता गौरवाय ” ये विश्वविद्याल का ध्येयसूत्र है। इस विश्वविद्यालय का व्याप सम्प ...

हानगुल

हानगुल में कुल ४० अक्षर होते हैं जिनमें से १४ शुद्ध व्यंजन, 5 दोहरे व्यंजन, 10 शुद्ध स्वर और ११ मिश्रित स्वर होते हैं। नोट: कोरियन में अक्षरों के नाम और उच्चारण अलग होते हैं। उदाहरण के लिए अक्षर का नाम "खियक" है लेकिन शब्दों को पढ़ते समय इसका उच् ...

हानजा

साँचा:ज्ञानसन्दूक कोरियाई नाम हानजा, चीनी वर्णों के लिए प्रयुक्त होने वाला कोरियाई शब्द है। यह उन शब्दों के लिए प्रयुक्त होता है जो चीनी वर्णों से लिगए हैं और जो कोरियाई उच्चारण के साथ बोले जाते है। हानजा मल या हानजा-इओ वे शब्द हैं जो हानजा के सा ...

ईएसपीएन

ईएसपीएन एक भारत में प्रसारित होने वाला अंग्रेज़ी खेल चैनल है। स्टार स्पोर्ट्स ४ भारत द्वारा स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क में एक खेल चैनल है। स्टार स्पोर्ट्स 4 और ईएसपीएन एचडी ६ नवंबर २०१३ से स्टार स्पोर्ट्स HD2 के रूप में नाम और स्टार नेटवर्क के तहत क ...

कार्टून नेटवर्क (भारत)

कार्टून नेटवर्एक भारतीय बाल चैनल है। कार्टून नेटवर्एक भारत में प्रसारित होने वाला पूर्व अंग्रेज़ी चैनल है। कार्टून नेटवर्क इंडिया एक केबल और सेटेलाइट टेलीविज़न चैनल है, जो टर्नर ब्रॉडकास्टिंग के द्वारा बनागई है, यह चैनल टाइम वॉर्नर की एक इकाई है ...

टाइम्स नाऊ

टाइम्स नाऊ एक २४ घंटे का अंग्रेजी समाचार चैनल है जो मुंबई में आधारित है और भारत, सिंगापुऔर संयुक्त राज्य अमेरिका में प्रसारित होता है। टाइम्स नाऊ के मुख्य संपादक हैं और सुनील लुल्ला वर्तमान सी॰ई॰ओ॰ हैं। यह मोबाइल स्क्रीन रिलायंस इन्फोकॉम नेटवर्क ...

नॉर्थ ईस्ट लाइव

नॉर्थ ईस्ट लाइव असम, भारत में अंग्रेजी और हिंदी में प्रसारित होने वाला २४ घंटे का सैटेलाइट समाचार चैनल है, जो मुख्य रूप से पूर्वोत्तर भारत पर केंद्रित है। नॉर्थ ईस्ट लाइव पूर्वोत्तर के आठ राज्यों को कवर करने वाला पहला उपग्रह अंग्रेजी समाचार चैनल ...

पोगो

पोगो एक भारत में प्रसारित होने वाला एक बाल चैनल है। यह एक पूर्व अंग्रेज़ी चैनल है। पोगो जो १ जनवरी २००४ को भारत में शरू हुई, वह टर्नर ब्रोडकास्टिंग की केबल और सेटेलाइट टेलीविजन चैनल है, यह चैनल टाइम वॉर्नर की एक इकाई है जो एनिमेटेड प्रोग्रामिंग क ...

स्टार क्रिकेट

स्टार क्रिकेट स्टार समूह का एक टीवी चैनल है। स्टार क्रिकेट एक हिन्दी टी वी चैनल है। यह एक क्रीड़ा संबंधी चैनल है। स्टार क्रिकेट एक भारत में प्रसारित होने वाला अंग्रेज़ी चैनल है।

स्टार वर्ल्ड

स्टार वर्ल्ड एक भारत में प्रसारित होने वाला अंग्रेज़ी चैनल है। स्टार वर्ल्ड स्टार समूह का एक टीवी चैनल है। पहले यह स्टार प्लस के नाम से जाना जाता था। स्टार वर्ल्ड विभिन देशो से जैसे की संयुक्त राज्य अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम व ऑस्ट्रेलिया से अंग्र ...

हिप्स डोंट लाइ

हिप्स डोंट लाइ कोलम्बियाई गायिका शकीरा और हैतीयन रैपर वाईक्लेफ जीन द्वारा गाया गया एक अत्यंत सफ़ल गाना है। गाना शकीरा की दूसरी अंग्रेज़ी एल्बम ओरल फिक्सेशन वॉल. 2 के दूसरे सिंगल के रूप में जारी किया गया था।

आयरलैंड का होम रूल आन्दोलन

आयरलैंड में होम रूल आन्दोलन, आयरलैण्ड के लोगों का अपना शासन स्थापित करने तथा ब्रिटेन का राजनीतिक नियन्त्रण कम करने के लिये चलाया गया एक राजनीतिक आन्दोलन था।

आयरलैण्ड गणराज्य का इतिहास

स्वाधीनता मिलने से पूर्व आयरलैण्ड देश ब्रिटिश शासन के आधीन था। ३ मई १९२१ को इस देश का विभाजन हो गया और ६ दिसम्बर १९२२ को यह यू० के० से स्वतन्त्र होकर एक अलग राज्य के रूप में स्थापित्य हो गया। राज्य से इसे देश का दर्जा २९ दिसम्बर १९३७ को प्राप्त ह ...

फिनियन ब्रदरहुड

फिनियन ब्रदरहुड अंग्रेजी शासन से आयरलैंड की मुक्ति के हेतु निर्मित एक संगठन था। जॉन ओ महोनी ने 1848 में न्यूयार्क में इसकी नींव डाली। इसके सदस्यों को फीनियन्स कहते थे। फीनियन ब्रदरहुड का उद्देश्य शस्त्रक्रांति और सैनिक कार्यवाइयों द्वारा आयरलैंड ...

विरोधी आयरिश भावना

आयरलैण्ड विरोधी भावना अथवा आयरिश विरोधी भावना अथवा हिबेरनोफोबिया आयरलैण्ड आयरिश प्रवासी लोगों में आयरिश आप्रवासियों और उनके वंशजों के खिलाफ उत्पीड़न, भेदभाव, घृणा के भाव के लिए प्रयुक्त शब्द हैं।

तीनिअन

तीनिअन या तीनिआन उत्तरी मारियाना द्वीपों का दूसरा सबसे बड़ा द्वीप है। उत्तरी मारियाना द्वीप प्रशान्त महासागर में स्थित संयुक्त राज्य अमेरिका का एक कॉमनवेल्थ हैं जिसमें १५ द्वीप आते हैं और जिसमें गुआम के अलावा मारियाना द्वीपसमूह के सभी अन्य द्वीप ...

रोता द्वीप

रोता, जो स्थानीय चामोर्रो भाषा में लूता कहलाता है, उत्तरी मारियाना द्वीपों का, साइपैन और तीनिअन के बाद, तीसरा सबसे बड़ा द्वीप है। उत्तरी मारियाना द्वीप प्रशान्त महासागर में स्थित संयुक्त राज्य अमेरिका का एक कॉमनवेल्थ हैं जिसमें १५ द्वीप आते हैं औ ...

साइपैन

साइपैन उत्तरी मारियाना द्वीपों का सबसे बड़ा द्वीप है। उत्तरी मारियाना द्वीप प्रशान्त महासागर में स्थित संयुक्त राज्य अमेरिका का एक कॉमनवेल्थ हैं जिसमें १५ द्वीप आते हैं और जिसमें गुआम के अलावा मारियाना द्वीपसमूह के सभी अन्य द्वीप शामिल हैं। साइपै ...

महेन्द्र चौधरी

महेन्द्र पाल चौधरी फिजी के एक राजनेता है। वे फिजी लेबर पार्टी के नेता हैं। १९ मई १९९९ को वे फिजी के प्रधानमंत्री बनने वाले वे प्रथम भारतीय-फिजीयाई थे। किन्तु ठीएक वर्ष बाद १९ मई २००० को उन्हें तथा उनके अधिकांश मंत्रियों को जॉर्ज स्पीट द्वारा बन्ध ...

सेंट ब्रेंडन

सेंट ब्रेंडन मॉरिशस का एक शहर है जोकि हिन्द महासागर में स्थित है। इसे कार्गाडोस काराओस के नाम से भी जाना जाता है। सेंट ब्रैंडन में, मौसमी तूफान और संबंधित रेत के हलचल के आधार पर, लगभग २८-४० द्वीप और छोटे टापू इत्यादि कुल मिलाकर पांच द्वीप समूह हो ...

टाइगर एयरवेज

टाइगर एयरवेज सिंगापुर पीटीई लिमिटेड, जिसे टाइगर एयर के नाम से जाना जाता हैं, एक कम लागत वाला एयरलाइन है जिसका मुख्यालय सिंगापुर में हैं। यह मुख्य रूप से दक्षिण पूर्व एशिया, चीन और भारत जैसी क्षेत्रीय स्थलों को सेवा उपलब्ध कराती। इसे 2003 में एक स ...

पुलाउ युजौंग

पुलाउ युजौंग या सिंगापुर द्वीप द्वीपीय देश, सिंगापुर की मुख्य भूमि है। सिंगापुर के क्षेत्रफल और जनसंख्या का अधिकांश भाग यहीं है। सिंगापुर द्वीप के लिए यह सबसे सरल संदर्भ था, क्योंकि जब कोई मलक्का जलसन्धि से दक्षिणी चीन सागर की ओर या इसके विपरीत य ...

शांगरी-ला होटल

Shangri-La Hotels 2014.jpgशांगरी-ला होटल, सिंगापुर एक पांच सितारा डीलक्स होटल है, जो ऑरेंज ग्रोव रोड, ऑर्चर्ड रोड, सिंगापुर में स्थित है। Shangri-La Hotels 2014.jpg 23 April, 1971 को खुला यह होटल शांगरी-ला होटल और रिसॉर्ट समूह का पहला होटल है। इस ...

सिंगापुर का वन्यजीवन

सिंगापुर का वन्य जीवन अपने तीव्र शहरीकरण के बावजूद आश्चर्यजनक रूप से विविध है। सिंगापुर का वन्य जीवन विभिन्न प्रकृति भंडारों में अभी भी द्वीप पर मौजूद अधिकांश जीवों में मौजूद है। 1819 में, जब द्वीप पर एक ब्रिटिश व्यापारिक पद पहली बार स्थापित किया ...

सिंगापुर की अर्थव्यवस्था

सिंगापुर एशिया के सबसे तेज विकसित अर्थव्यवस्थाओं वाला देश है। प्रति व्यक्ति आय के हिसाब से यह विश्व में तीसरा देश है। अपनी आज़ादी के बाद, सन् १९६५ से इसने बहुत प्रगति की है। अर्थशास्त्रियों ने सिंगापुर को आधुनिक चमत्कार की संज्ञा दी है। यहाँ के स ...

सिंगापुर की जनसांख्यिकी

सिंगापुर के जनसांख्यिकी में जनसंख्या घनत्व, जातीयता, आबादी के अन्य जनसांख्यिकीय डेटा जैसे सिंगापुर के आबादी के आंकड़े शामिल हैं। जून 2017 तक, द्वीप की आबादी 5.61 मिलियन थी। इसकी आबादी का एक बड़ा प्रतिशत गैर-निवासियों हैं; 2014 में 5.47 मिलियन की ...