ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 329

एयर मार्शल

एयर मार्शल, एक तीन सितारा हवाई अधिकारी रैंक है जो रॉयल एयर फोर्स प्रारम्भ की गयी थी और इसे अभी भी इस्तेमाल किया जा रहा है। इस रैंक का उपयोग कई देशों की वायु सेनाओं द्वारा भी किया जाता है, जिनके पास राष्ट्रमंडल एवं ब्रिटिश प्रभाव है। वायु मार्शल ए ...

एयर वाइस मार्शल

एयर वाइस मार्शल एक दो सितारा एयर ऑफिसर रैंक है जो रॉयल एयर फोर्स द्वारा प्रारम्भ किया गया था और उसका इस्तेमाल अभी भी जारी है। रैंक का उपयोग कई देशों की वायु सेनाओं द्वारा भी किया जाता है, जिनके पास ऐतिहासिक ब्रिटिश प्रभाव होता है और कभी-कभी उन दे ...

वायुसेना

वायुसेना एक राष्ट्र की सैन्य संगठन की एक शाखा होती है जिसका मुख्य कार्य उस देश की वायु सुरक्षा, वायु चौकसी एव जरूरत होने पर वायु युद्ध करना होता है। इस सेन्य संगठन की संरचना थलसेना, नौसेना या अन्य शाखाओं से अलग और स्वतंत्र होती है। आमतौपर वायुसेन ...

लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी

लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी उद्देश्य उच्चतर सिविल सेवाओं के अधिकारियों को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए समर्पित, भारत का अग्रणी संस्थान है। इसके मुख्य दायित्व हैं- अखिल भारतीय सेवाओं तथा केंद्रीय सेवाओं के सदस्यों को एक संयुक्त आध ...

विचारक समूह

विचारक समूह या थिंक टैंक उस संस्था को कहते हैं जो सामाजिक नीति, राजनैतिक रणनीति, अर्थनीति, सैन्य नीति, प्रौद्योगिकी और संस्कृति जैसे विषयों पर गम्भीर व्यावहारिक चिन्तन करतीं हैं। इन्हें अनुसंधान संस्थान या नीति संस्थान भी कहते हैं। अधिकांश थिंक ट ...

किताबघर प्रकाशन

वर्ष 1968 में पंडित जगतराम आर्य ने इसकी शुरुआत की। अगस्त 1993 में उनका देहावसान हो गया। उनकी स्मृति में एक वार्षिक साहित्यिक सम्मान स्थापित करने का निर्णय प्रकाशन के संचालकों द्वारा लिया गया। 16 दिसंबर को उनका जन्मदिवस पड़ता है, अतएव यह निर्णय कि ...

पुस्तक महल

पुस्तक महल भारत के प्रमुख पुस्तक प्रकाशकों में से एक है। इसने रैपिडैक्स इंगलिश स्पीकिंग कोर्स और रैपिडैक्स कंप्यटर लर्निग कोर्स जैसे महत्वपूर्ण पुस्तकों का प्रकाशन किया। जिसकी लाखों प्रतियां छपीं और बिकीं भी. पुस्तक महल सामान्य रुचि, अनुभव, धर्म, ...

पॉप्युलर प्रकाशन

मूल रूप से एक किताब की दुकान के रूप में शुरू हुए पॉप्युलर प्रकाशन का नाम पॉप्युलर बुक डिपो था। इसके संस्थापक गणेश आर॰ भटकल थे जिन्होंने इसे 1924 में स्थापित किया गया था। 1962 में सदानंद जी॰ भटकल और रामदास जी॰ भटकल ने पॉप्युलर प्रकाशन की स्थापना की।

प्रभात प्रकाशन

प्रभात प्रकाशन भारत में हिन्दी पुस्तकों के एक प्रमुख प्रकाशक हैं। इसकी स्थापना १९५८ में हुई थी। यह विगत पचास वर्षों से साहित्य की प्रायः सभी विधाओं में एक विस्तृत पाठक वर्ग को श्रेष्ठतम पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराते हुए वर्तमान में देश में हिंदी पुस ...

भारतीय ज्ञानपीठ

भारतीय ज्ञानपीठ भारत में साहित्य संबंधी गतिविधियों के संवर्धन और संरक्षण के लिए कार्यरत सबसे प्रमुख और प्रतिष्ठित संस्थान है। श्रीमती रमा जैन और श्री साहूशान्ति प्रसाद जैन द्वारा संस्थापित यह संस्थान साहित्यिक पुस्तकें प्रकाशित करता है तथा ज्ञानप ...

भुवन वाणी ट्रस्ट

भुवन वाणी ट्रस्ट हिन्दी पुस्तकों के एक प्रमुख प्रकाशक हैं। इसकी स्थापना १९६९ में नन्द कुमार अवस्थी ने की थी। इसका मुख्यालय लखनऊ में है। हिन्दी, उर्दू, संस्कृत, बँगला, असमी, ओड़िया, कश्मीरी, मराठी, गुरुमुखी, गुजराती, तमिळ, तेलुगु, कन्नड़ मलयाळम, स ...

मोतीलाल बनारसीदास

मोतीलाल बनारसीदास भारत का प्रसिद्ध प्रकाशन समूह है। यह संस्कृत तथा भारतविद्या से सम्बन्धित स्तरीय पुस्तकों के प्रकाशन के लिये विख्यात है। इसका आरम्भ सन् १९०३ से हुआ। दिल्ली, मुम्बई, कोलकाता, चेन्नै, बंगलुरू, पटना, वाराणसी और पुणे में इनका प्रकाशन ...

रजत प्रकाशन

यह हिन्दी पुस्तकों के एक प्रमुख प्रकाशक हैं। इसकी स्थापना 1962 में मेरठ में प्रदीप जैन ने की। यह संस्थान लुगदी साहित्य के लिए प्रसिद्ध है। इसके साथ ही मोटीवेशनल पुस्तकें भी यहां से प्रकाशित होती हैं।

राजकमल प्रकाशन

राजकमल प्रकाशन प्राइवेट लिमिटेड मुख्यतः हिन्दी पुस्तकों को प्रकाशित करने वाला एक प्रतिष्ठित प्रकाशन संस्थान है। इसका मुख्यालय नेताजी सुभाष मार्ग, दरियागंज नयी दिल्ली में स्थित है। यह मूलतः साहित्यिक प्रकाशन है, परंतु साहित्येतर विषयों की श्रेष्ठ ...

राजपाल एण्ड सन्स

राजपाल एण्ड सन्स हिन्दी पुस्तकों के एक प्रमुख प्रकाशक हैं। इसकी स्थापना १९१२ में लाहौर में की गयी थी। आरम्भ में इस प्रकाशन ने हिन्दी, उर्दू, अंग्रेजी तथा पंजाबी भाषाओं में आध्यात्मिक, सामाजिक तथा राजनीतिक विषयों पर पुस्तकें प्रकाशित कीं। भारत के ...

राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारत

राष्ट्रीय पुस्तक न्यास भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधीन स्वायत्तशासी संगठन है। इसकी स्थापना 1957 में हुई थी। इसके कार्य हैं - 1 प्रकाशन २ पुस्तक पठन को प्रोत्साहन 3 विदेशों में भारतीय पुस्तकों को प्रोत्साहन 4 लेखकों और प्रकाशकों क ...

सिग्नेट प्रेस

सिगनेट प्रेस की स्थापना पश्चिम बंगाल के कोलकाता नगर में डी. के. गुप्ता ने की थी। संस्कृत कॉलेज के सामने कॉलेज स्ट्रीट नाम से किताबों के लिए प्रसिद्ध सड़क पर स्थित इस प्रेस में सत्यजित राय ने अपने जीवन के प्रारंभिक दिन विजुअल डिज़ाइनर की तरह काम क ...

सूर्यभारती प्रकाशन

सूर्यभारती प्रकाशन हिन्दी पुस्तकों के एक प्रमुख प्रकाशक हैं। इसकी स्थापना 1948 में हुई।यह राष्ट्रवादी लेखकों की पुस्तकें प्रकाशित करता है। नाथुराम गोडसे की आत्मकथा गांधी वध क्यों? यहां से प्रकाशित सबसे चर्चित पुस्तक रही। तेजपाल सिंह धामा की बेगमो ...

हिन्द पॉकेट बुक्स

हिन्द पॉकेट बुक्स हिन्दी पुस्तकों के एक प्रमुख प्रकाशक हैं। इस प्रकाशन संस्थान की स्थापना 1950 में दीनानाथ मल्होत्रा ने की और एक रुपए के दाम वाली बेहद सस्ती और उत्कृष्ट पेपरबैक पुस्तकें निकालकर विश्वभर को चौंका दिया। देश के तमाम बड़े लेखकों में इ ...

हिन्दी साहित्य सदन

यह हिन्दी पुस्तकों के एक प्रमुख प्रकाशक हैं। इसकी स्थापना आजादी से पहले लाहौर में हुई थी, बाद में 1947 में यह प्रकाशन दिल्ली आया। इसके संस्थापक जनसंघ के संस्थापक सदस्य रहे वैद्य गुरुदत्त थे। इस संस्थान ने राष्ट्रवादी लेखकों की ही पुस्तकें प्रकाशि ...

गान्धर्व महाविद्यालय

गान्धर्व संगीत महाविद्यालय की स्थापना 1901 में पं॰ विष्णु दिगम्बर पलुस्कर द्वारा लाहौर में की गई थी। यह भारत का पहला ऐसा संगीत विद्यालय था, जो जनता के सहयोग और दान-दक्षिणा से संचालित हो रहा था, न कि किसी तरह के राज्य आश्रय के रूप में। यहाँ पर सभी ...

शंकर गन्धर्व महाविद्यालय

शंकर गांधर्व महाविद्यालय की स्थापना गानमहर्षी पं. कृष्णराव शंकर पंडित जी द्वारा वर्ष 1914 में कई गयी। उनके पिता शंकर पंडित जी के देहावसान के बाद महाविद्यालय का नाम उन्हें श्रद्धांजलि के रूप में शंकर गांधर्व महाविद्यालय रखा गया। ग्वालियर स्थित इस ...

संगीत भारती

संगीत भारती संस्थान की स्थापना प्रख्यात वेद गुरु, धर्माचार्य एवं संगीताचार्य स्वामी श्री द्वारिकाधीश अधीश जी महाराज द्वारा सन 1981 में की गयी थी जिसके मुख्य संचालक मुंबई के सूप्रसिद्ध गायक एवं संगीत निर्देशक "मनुज देव भारद्वाज" एवं उनके पुत्र हर् ...

अर्धचालक प्रयोगशाला, चंडीगढ़

अर्धचालक प्रयोगशाला या सेमीकंडक्टर लेबोरेटरी भारत सरकार के अंतरिक्ष विभाग के अन्तर्गत एक संस्था है जिसका मुख्य उद्देश्य अर्धचालक प्रक्रिया से संबंधित क्षेत्र में, सेमी-कंडक्टर प्रौद्योगिकी, सूक्ष्म इलेक्ट्रॉनिक्स यांत्रिकीय प्रणाली को सहायता, प्र ...

उन्नत प्रौद्योगिकी रक्षा संस्थान

उन्नत प्रौद्योगिकी रक्षा संस्थान भारत में रक्षा संबंधी प्रौद्योगिकी शिक्षा में अग्रणी सम-विद्यापीठ है। इस संस्थान का प्रबंधन रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन, रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन है। यह संस्थान पुणे, महाराष्ट्र के खडकवासला बाँध के पा ...

भारतीय खाद्य निगम

{आधार}} भारतीय खाद्य निगम Food Corporation of India भारत का एक निगम है। भारत में खाद्य सुरक्षा को सुनिश्चित करने हेतु यह खाद्यान्नों का क्रय करके उन्हें गोदामों में भण्डारित करता है।

राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड

राष्‍ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड भारत सरकार का एक उद्यम है। यह देश के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों का उन्नयन करने, उन्हें सहायता देने तथा उनके विकास में वृद्धि करने का कार्य करता है। लगभग पांच दशक पूर्व इसकी स्थापना की गई थी और तबसे निगम ने दे ...

राष्‍ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्‍यूरो

राष्‍ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्‍यूरो भारत सरकार, गृह मंत्रालय के साथ संलग्‍न एक कार्यालय है। नई दिल्‍ली स्थित इस ब्‍यूरो का प्रमुख उद्देश्य भारत की पुलिस के आधुनिकीकरण व सूचना प्रौद्योगिकी में सशक्‍त करना है। वर्तमान में इस ब्यूरो के महानिदेशक श्री आ ...

वित्तीय आसूचना एकक (भारत)

वित्तीय आसूचना एकक वित्त मंत्रालय के अधीन एक एजेंसी है जिसका कार्य संदेहयुक्त वित्तीय सौदों की सूचनाओं का संग्रहण, प्रोसेसिंग, विश्लेषण व अपसारण करना है। यह अपने आप में एक नियामक संस्था नहीं है अपितु सूचना संग्रहण के माध्यम से विभिन्न नियामकों यथ ...

सी-डैक मुंबई

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, संचाऔर सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार ने इलेक्ट्रानिक्स रिसर्च ऍण्ड सेंटर फॉर इलेक्ट्रानिक्स डिज़ाइन, भारत, नैशनल सेंटर फॉर सॉफ्टवेयर टेक्नोलोजी और सेंटर फॉर इलेक्ट्रानिक्स डिज़ाइन और प्रौद्योगिकी, भारत, मोहाली ...

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन, भारत की एक राज्य प्रोत्साहित अनिवार्य अंशदायी पेंशन और बीमा योजना प्रदान करने वाला शासकीय संगठन है | सदस्यों और वित्तीय लेनदेन की मात्रा के मामले में यह विश्व की सबसे बड़ा सगठन है | इसका मुख्य कार्यालय दिल्ली में है |

जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण योजना

जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण योजना भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय द्वारा वर्ष २००५ में शुरू की गयी एक योजना थी जिसका उद्देश्य भारत के कुछ चुने हुए शहरों में विकास को गति प्रदान करना था। इसका शुभारम्भ तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ...

पूर्वोतर परिषद

पूर्वोत्तर परिषद भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र के आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए बनी एक आधारभूत संस्था है। इसकी स्थापना संसदीय अधिनियम के तहत भारत की केन्द्र सरकार ने सन् 1971 में की। इसके सदस्य भारत के पूर्वोत्तर के सात राज्य अरुणाचल प्रदेश, असम, म ...

फ़िल्म समारोह निदेशालय

फ़िल्म समारोह निदेशालय एक भारतीय संगठन है जो भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव, राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्काऔर भारतीय पैनोरमा प्रस्तुत करता है। यह १९७३ में भारत सरकार द्वारा स्थापित किया गया था और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के एक भाग के रूप में का ...

भारत का योजना आयोग

भारत का योजना आयोग, भारत सरकार की एक संस्था थी जिसका प्रमुख कार्य पंचवर्षीय योजनायें बनाना था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में अपने पहले स्वतंत्र दिवस के भाषण में यह कहा कि उनका इरादा योजना कमीशन को भंग करना है। 2014 में इस संस्था का नाम बद ...

यूनेस्को के साथ सहयोग के लिए भारतीय राष्ट्रीय आयोग

यूनेस्को के साथ सहयोग के लिए भारतीय राष्ट्रीय आयोग भारत सरकार द्वारा गठित एक सरकारी निकाय है जो मानव संसाधन विकास मंत्रालय में माध्यमिक और उच्च शिक्षा विभाग के अधीन कार्य करता है। कमीशन का उद्देश्य यूनेस्को से संबंधित मामलों में सरकार को सलाह देन ...

राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और नागरिक सुरक्षा एक पुलिस बल है जिसका निर्माण डिज़ास्टर मैनेज़मेंट ऐक्ट २००५ के कानून के तहत किसी आपातकाल या आपदा के समय विशेषज्ञता और प्रतिबद्धता के साथ संगठित हो कर प्रभावितों और हताहतों के भले के लिए काम करना है।: खंड भ ...

राष्ट्रीय किसान आयोग

राष्ट्रीय किसान आयोग) भारत का एक आयोग है जिसका गठन १८ नवम्बर २००४ को किया गया था। इसके अध्यक्ष एम॰ एस॰ स्वामीनाथन हैं। आयोग ने चार रपट दिये- दिसम्बर २००४ में, अगस्त २००५ में, दिसम्बर २००५ में, और अप्रैल २००६ में। पाँचवाँ तथा अन्तिम रपट ४ अक्टूबर ...

राष्ट्रीय धार्मिक और भाषाई अल्पसंख्यक आयोग

राष्ट्रीय धार्मिक और भाषाई अल्पसंख्यक आयोग: भारत सरकार ने धार्मिक और भाषायी अल्पसंख्यकों के सामाजिक-आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के कल्याण की आवश्यकता को समझता है। सरकार ने धार्मिक और भाषायी अल्पसंख्यकों के सामाजिक-आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों की प ...

राष्ट्रीय पुलिस आयोग

राष्ट्रीय पुलिस आयोग भारत में 1977 में जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद पुलिस सुधार के लिये अनुशंसा करने के लिये १५ नवम्बर १९७७ को गठित एक आयोग था। श्री धरम वीर इसके अध्यक्ष थे। इस आयोग ने रिपोर्ट देने की शुरुआत 1981 से की। फरवरी १९७९ और मई १९८१ ...

रेलवे सुरक्षा आयोग

रेलवे सुरक्षा आयोग भारत की एक सरकारी एजेंसी है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अधीनस्थ, यह कमीशन के रूप में 1989 रेल अधिनियम द्वारा निर्देशित, भारत में एक रेल सुरक्षा प्राधिकरण है। एजेंसी रेल दुर्घटनाओं की जांच करती है। इसका प्रधान कार्यालय पूर्वोत्तर ...

सरकारिया आयोग

सरकारिया आयोग का गठन भारत सरकार ने जून 1983 में किया था। इसके अध्यक्ष सर्वोच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायधीश न्यायमूर्ति रणजीत सिंह सरकारिया थे। इसका कार्य भारत के केन्द्र-राज्य सम्बन्धों से सम्बन्धित शक्ति-संतुलन पर अपनी संस्तुति देना था।

अमेरिकी सीनेट

युनाईटेड स्टेट्स सेनेट अमरीकी काँग्रेस की उपरी प्रतिनिधि सभा है। हाउस ऑफ रेप्रेसेंटेटिव काँग्रेस की निचली प्रतिनिधि सभा है। भारतीय लोकतंत्र में सेनेट की तुलना राज्यसभा से की जा सकती है। सिनेट के विशेषाधिकार हैं: १ उपराष्ट्रपति का निर्वाचन, ४ विदे ...

अमेरिकी हाउस ऑफ रेप्रेसेंटेटिव

अमेरिकी हाउस ऑफ रेप्रेसेंटेटिव अमेरिकी कांग्रेस का निचला सदन है। सदन की रचना संयुक्त राज्य अमेरिका के संविधान के अनुच्छेद एक द्वारा स्थापित की गई है। सदन उन प्रतिनिधियों से बना है, जो कांग्रेस के जिलों में बैठते हैं, जो कि 50 राज्यों में प्रत्येक ...

एकसदनवाद

सरकारी व्यवथाओं में एकसदनवाद उस विधि को कहते हैं जिसमें विधायिका में एक सदन हो। उदाहरण के लिये भारत के गुजरात राज्य में एक-सदन की विधान सभा ही है । राष्ट्रीय स्तर पर भारत में द्विसदनपद्धति है क्योंकि भारतीय संसद में लोक सभा व राज्य सभा को अलग रखा ...

द्विसदनपद्धति

सरकारी व्यवथाओं में द्विसदनपद्धति उस विधि को कहते हैं जिसमें विधायिका में दो सदन हों। इसे द्विसदन विधानमण्डल भी कहते हैं। उदाहरण के लिये भारतीय संसद में दो सदन हैं: लोक सभा और राज्य सभा। इसके विपरीत फ़िलिपीन्स जैसे कुछ देशों में एकसदनी संसदें हैं।

विधानपालिका

विधायिका या विधानमंडल किसी राजनैतिक व्यवस्था के उस संगठन या ईकाई को कहा जाता है जिसे क़ानून व जन-नीतियाँ बनाने, बदलने व हटाने का अधिकार हो। किसी विधायिका के सदस्यों को विधायक कहा जाता है। आमतौर से विधायोकाओं में या तो एक या फिर दो सदन होते हैं। भ ...

त्सारवादी एकतन्त्र

त्सारवादी एकतन्त्र का सन्दर्भ एकतन्त्र के एक प्रकार से है, जो मॉस्को की ग्रैंड डची के लिए विशिष्ट था व जो बाद में रूस का त्सारराज्य और रूसी साम्राज्य बन गया। इस में, सारी शक्ति और सम्पत्ति त्सार द्वारा नियन्त्रित और होती हैं। इन त्सारों के पास सं ...

मुकुट

मुकुट तथा ताज वह होता है जो राजा एवं रानियाँ तथा देव एवं देवी सिर पे पहनते हैं अपने शक्ति और राज के सत्य दिखाने के लिए। यह प्रायः बहुमूल्य धातु से बना होता है। कला में, देवदूत राजा को मुकुट पहनाते हुए अक्सर दिखाया जाता है। मुकुट पे प्रायः मणि लगा ...

ओटावा

ओटावा कनाडा की राजधानी है। यह नगर कैनाडा में ओण्टेरियो प्रांत के कार्लटन प्रदेश में ओटावा नदी के दाहिने किनारे पर शोडयेर जलप्रपात के पास स्थित है। यह नगर माँट्रील से १५० किमी पश्चिम और टोरेंटो से ३२५ किमी उत्तर-पूर्व की ओर है।