ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 244

डिकी बर्ड

हेरोल्ड डेनिश बर्ड अंग्रेज़ी: Harold Dennis "Dickie" Bird जन्म १९ अप्रैल १९३३,स्टेनक्रॉस,इंग्लैंड एक पूर्व सेवानिवृत्त क्रिकेट अम्पायर है। इन्होंने अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट कैरियर में ९३ मैचों में कुल ३३१४ रन बनाए जिसमें २ शतक और एक १४ अर्द्धशतक ...

दिवाकर शर्मा

दिवाकर शर्मा संस्कृत, हिंदी तथा राजस्थानी भाषाओं के विद्वान थे। आपने संस्कृत की कलाधिस्नातक परीक्षा कोटा में उत्तीर्ण की थी तथा पीएच. डी. की उपाधि राजस्थान विश्वविद्यालय से प्राप्त की थी। आपको साहित्य, संस्कृति तथा इतिहास का प्रतिबोधन अपने पिताश् ...

नजह अल-अत्तार

नजह अल-अत्तार 2006 से कार्यालय में सीरिया की उपराष्ट्रपति है। वह पहली अरब महिला हैं जिन्होंने पद संभाला है। पहले वह 1976 से 2000 तक संस्कृति मंत्री थीं।

निचिता स्टानेस्सू

स्टैनेस्कु के पिता निकोले ह्रीस्टिया स्टैनेस्कू थे 1 9 08-1982 उनकी मां, तातियाना सेरेआचीउचिन, रूसी थीं मूलतः वोरोनज़ से, वह रूस से भाग गई थी और 1931 में शादी कर ली थी निकिटा स्टैनेस्कू ने प्लोइस्टी में हाई स्कूल कि शिक्षा प्राप्त की, फिर बुखारेस ...

पद्मनाभ गौतम

विंग कमांडर पद्मनाभ गौतम, एम॰वी॰सी॰, वी॰एस॰एम॰ भारतीय वायुसेना में एक अधिकारी थे। उनका जन्म 23 जुलाई 1933 को चेन्नई, तमिलनाडु में नीलकंठा पद्मनाभ में हुआ और 1 अप्रैल 1953 को भारतीय वायु सेना में नियुक्त किया गया। 1961 में, उन्होंने एक उड़ान लेफ्ट ...

पन्ना नाइक

पन्ना नाइक गुजराती भाषा की भारतीय कवयित्री और कहानीकार हैं, जो 1960 से संयुक्त राज्य अमेरिका के फिलाडेल्फिया में रहती हैं। स्थानीय विश्वविद्यालय में काम करते हुए उन्होंने अपने आसपास की दुनिया से तैयार की गई कविता लिखी। उनकी पुस्तक प्रवेश को आलोचन ...

पी॰के॰ नायर

पी॰के॰ नायर एक भारतीय फ़िल्म अभिलेखक थे।उन्होंने पुरानी फिल्मों को संजोने के लिए वर्ष 1964 में पुणे में राष्ट्रीय फिल्म संग्रहालय शुरू किया। उन्होंने इस संग्रहालय में 12.000 फिल्मों को संग्रहीत किया जिसमें से 8.000 भारतीय फिल्में हैं। उनके एक शिष ...

प्रताप सी रेड्डी

प्रताप चंद्र रेड्डी एक भारतीय उद्यमीऔर हृदय रोग विशेषज्ञ है, जिन्होंने भारत में अस्पतालों की पहली कॉर्पोरेट श्रृंखला - अपोलो हॉस्पिटल समूह की स्थापना की। इंडिया टुडे पत्रिका ने २०१७ की सूची केभारत के 50 सबसे शक्तिशाली लोगों में उन्हें #४८ वें स्थ ...

भीष्म नारायण सिंह

भीष्म नारायण सिंह एक भारतीय राजनीतिज्ञ थे। वे वर्ष 1984 से 1989 तक असम और मेघालय के राज्यपाल रहे थे। साथ ही 1991 से 1993 तक वह तमिलनाडु के राज्यपाल भी रहे जिसमें पुडुचेरी और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह का अतिरिक्त प्रभार भी शामिल है। वे वर्ष 196 ...

मधुर जाफरी

मधुर जाफरी एक भारतीय अभिनेत्री, खाद्य और यात्रा लेखिका, और टेलीविजन व्यक्तित्व हैं। वह अपनी पहली रसोई की किताब, "एन इनविटेशन टू इंडियन कुकिंग" के साथ भारतीय व्यंजनों को अमेरिका में लाने के लिए पहचानी जाती हैं, जिसे 2006 में जेम्स बियर्ड फाउंडेशन ...

वसंत गोवारिकर

वसन्त गोवारिकर भारतीय वैज्ञानिक थे। उन्हें सन २००८ में भारत सरकार द्वारा विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

वसंत पुरुषोत्तम काले

वसंत पुरुषोत्तम काले, इन्हें मराठी साहित्य जगत में लोकप्रिय रूप से व पु नाम से जाना जाता है, वे एक मराठी लेखक थे जिनकी प्रमुख रचनाएँ है- लघु कथाएँ, उपन्यास, जीवनी रेखाचित्र। इनकी लेखक के रूप में 60 से अधिक पुस्तकें प्रकाशित है। उनकी प्रसिद्ध पुस् ...

शाज़ तमकनत

शाज़ तमकनत उर्दू के एक प्रसिद्ध शायर थे। उन जन्म 1933 में हैदराबाद में हुआ था तथा निधन उसी शहर में 1985 को हुआ था। आधुनिक उर्दू कविता में शाज़ तमकनत अपने समय के सुप्रसिद्ध कवियों में स्वयं को दर्ज करवाते हैं। दखन के नामी-गिरामी शायरों में शाज़ का ...

अब्दुल हमीद

कम्पनी क्वार्टर मास्टर हवलदार अब्दुल हमीद मसऊदी भारतीय सेना की ४ ग्रेनेडियर में एक सिपाही थे जिन्होंने 1965 के भारत-पाक युद्ध के दौरान खेमकरण सैक्टर के आसल उत्ताड़ में लड़े गए युद्ध में अद्भुत वीरता का प्रदर्शन करते हुए वीरगति प्राप्त की जिसके लि ...

हर्बर्ट एलेक्जेंड्रोविच येफ्रेमोव

हर्बर्ट एलेक्जेंड्रोविच येफ्रेमोव को सन २००३ में भारत सरकार द्वारा विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया था। ये रूस से हैं।

अजीत कौर

अजीत कौर आजादी के बाद की पंजाबी की सबसे उल्लेखनीए साहित्यकार मानी जाती हैं। इनका लेखन जीवन के उहापोह को समझने और उसके यथार्थ को उकेरने की एक ईमानदार कोशिश है। इनकी रचनाओं में न केवल नारी का संघर्ष और उसके प्रति समाज का असंगत दृष्टिकोण रेखांकित हो ...

अरविंद आप्टे

अरविंद राव लक्ष्मणराव आप्टे भारत के क्रिकेट खिलाड़ी थे। उनके भाई माधव आप्टे भी एक क्रिकेट खिलाड़ी थे। ५ अगस्त २०१४ को प्रोस्टेट कैंसर से उनका निधन हो गया।

उमर करामी

उमर अब्दुल हमीद करामी अरबी: عمر عبد الحميد كرامي ‎; 7 सितम्बर 1934 – 1 जनवरी 2015) लेबनान के राजनीतिज्ञ थे जो दो बार वहाँ के प्रधानमंत्री बने। लम्बी बिमारी के बाद १ जनवरी २०१५ को ८० वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया।

उर्मिला भट्ट

उर्मिला भट्ट भारतीय फिल्म अभिनेत्री थीं, और मुख्य रूप से हिन्दी भाषा में बनी फिल्मों में काम करती थीं। इन्होंने अपने अभिनय की शुरुआत ड्रामा थियेटर में अभिनय से शुरू किया था। इसके बाद ये राजकोट के संगीत कला अकादमी में डांसर और गायिका के रूप में जु ...

कमला सुरय्या

कमला सुरय्या पूर्व नाम कमला दास अँग्रेजी वो मलयालम भाषा की भारतीय लेखिका थीं। वे मलयालम भाषा में माधवी कुटटी के नाम से लिखती थीं। उन्हें उनकी आत्मकथा ‘माई स्टोरी’ से अत्यधिक प्रसिद्धि मिली।

किशोर काबरा

डॉ॰ किशोर काबरा हिन्दी कवि हैं। साठोत्तरी हिन्दी-कविता के शीर्षस्थ हस्ताक्षरों में उनका महत्वपूर्ण स्थान है। काबरा जी मूलत: कवि हैं, साथ ही निबन्धकार, आलोचक, कहानीकार, शब्द-चित्रकार, अनुवादक एवं संपादक भी हैं। आपक की गद्य-प्रतिभा लघुकथाओं और प्रब ...

केदारनाथ सिंह

केदारनाथ सिंह, हिन्दी के सुप्रसिद्ध कवि व साहित्यकार थे। वे अज्ञेय द्वारा सम्पादित तीसरा सप्तक के कवि रहे। भारतीय ज्ञानपीठ द्वारा उन्हें वर्ष २०१३ का ४९वां ज्ञानपीठ पुरस्कार प्रदान किया गया था। वे यह पुरस्कार पाने वाले हिन्दी के १०वें लेखक थे।

केसरी नाथ त्रिपाठी

केशरीनाथ त्रिपाठी का जन्म उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में 10 नवम्बर दिन शनिवार तिथि चतुर्थी सन 1934 को हुआ था।वर्तमान में वे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल हैं। यह पद उन्होंने १४ जुलाई २०१४ को ग्रहण किया था। उत्तर प्रदेश के तीनबार विधानसभाध्यक्ष और पांच ब ...

गिल्बर्ट स्ट्रेंग

विलियम गिल्बर्ट स्ट्रेंग, आमतौपर केवल गिलबर्ट स्ट्रांग या गिल स्ट्रांग के रूप में जाना जाता है, एक अमेरिकी गणितज्ञ है, जो कि परिमित तत्व सिद्धांत, विविधता के कलन, तरंग विश्लेषण और रेखीय बीजगणित मे योगदान के लिए जाने जाते हैं| उन्होंने गणित की शिक ...

ग्लोरिया स्टाइनम

ग्लोरिया मैरी स्टाइनम एक अमेरिकी नारीवादी पत्रकाऔर सामाजिक और राजनीतिक कार्यकर्ता हैं, जो 1960 के दशक के अंत और 1970 के दशक की शुरुआत में नारीवादी आंदोलन के नेता और प्रवक्ता के रूप में राष्ट्रीय स्तर पर थीं। उन्हें द्वितीय-तरंग नारीवाद के सबसे जा ...

नरेश चन्द्रा

नरेश चन्द्रा पूर्व भारतीय सिविल सेवक हैं जो केबिनेट सचिव और संयुक्त राज्य अमेरिका में भारतीय राजदूत रह चुके हैं। उन्हें २००७ में भारत के द्वितीय सर्वोच्य नागरीक सम्मान पद्म विभूषण से नव़ाज़ा गया।

चार्ल्स मैनसन

चार्ल्स मैनसन अमरीकी अपराध इतिहास के सबसे खतरनाक अपराधियों में एक है। 1960 के दशक में असने एक आपराधिक समुदाय की स्थापना की। उसका विश्वास था की बीटल्स के गीत श्वेतों और अश्वेतों के बीच नसली युद्ध की भविष्यवाणी करते हैं। इसी मानसिकता के अन्तरगत कई ...

जेन गुडाल

डेम जेन मॉरिस गुडाल, एक अंग्रेजी प्राइमेटोलोजिस्ट, चरित्रशास्त्री, मनुष्य-शरीर-रचन-शास्त्री, और यू.एन. से भेजी गयी शान्ति दूत हैं। चिम्पांजी के लिये दुनिया की सबसे चर्चित विशेषज्ञ माने जानेवाली गुडाल, गोम्बे स्ट्रीम राष्ट्रीय उद्यान, तंजानिया में ...

ज्ञानमति

ज्ञानमती माताजी एक प्रतिष्ठित जैन साध्वी हैं। इन्होंने उत्तर प्रदेश के हस्तिनापुर में जम्बूद्वीप जैन मंदिऔर मांगी तुंगी मैं अहिंसा की प्रतिमा का निर्माण करवाया था। इनका जन्म उत्तर प्रदेश के टिकैत नगर में २२ अक्टूबर १९३४ को छोटेलाल जैन और मोहिनी द ...

डायना विने जोन्स

डायना विने जोन्स एक ब्रिटिश उपन्यासकार, कवि, अकादमिक, साहित्यिक आलोचक और लघु कथाकार थीं। उन्होंने मुख्य रूप से बच्चों और वयस्कों के लिए काल्पनिक और काल्पनिक उपन्यास लिखे। उसे बेहतर प्रसिद्ध कार्यों में से कुछ हैं चरेस्टोमासि श्रृंखला, दलेमार्क श् ...

निकोलस लिवरपूल

निकोलस जोसेफ ओरविले लिवरपूल ९ सितम्बर १९३४ – १ जून २०१५ डोमिनिकन राजनीतिज्ञ और सलाहकार थे जो डोमिनिका के २ अक्टूबर २००३ से १७ सितम्बर २०१२ तक राष्ट्रपति रहे। वर्ष १९५७ में लिवरपूल ने हुल विश्वविद्यालय में प्रवेश लिया और सन् १९६० में एल॰एल॰बी॰ ऑनर ...

नेमाई घोष

नेमाई घोष एक प्रसिद्ध भारतीय फोटोग्राफर हैं जो सत्यजीत राय के साथ काम करने के लिए जाने जाते हैं। इन्होने सत्यजीत राय के साथ गोपी गने से लेखर सत्यजीत जी की अंतिम फिल्म अगंटुतक दो दशक से अधिक समय तक फोटोग्राफी की। वह 2007 के राष्ट्रीय फिल्म पुरस्का ...

पंडित तुलसीदास बोरकर

पंडित तुलसीदास बोरकर एक भारतीय संगीतकाऔर हार्मोनियम वादक थे। उन्हें वर्ष 2016 में केंद्र सरकार द्वारा पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा उन्हें संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार भी प्रदान किया गया था। 29 सितंबर, 2018 को उनका मुंबई में निधन हो ...

बूटा सिंह

सरदार बूटा सिंह एक भारतीय राजनीतिज्ञ है। वे पूर्व में भारत के गृह मंत्री थे तथा बिहार के राज्यपाल के पद पर रह चुके है। वे भारत के राजस्थान राज्य के जालौर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र से चार बार सांसद रहे।

भगवती कुमार शर्मा

भगवती कुमार शर्मा गुजराती भाषा के विख्यात साहित्यकार थे। उनके द्वारा रचित एक उपन्यास असूर्यलोक के लिये उन्हें सन् 1988 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। ५ सितम्बर २०१८ को उनका निधन हो गया।

भुवन चन्द्र खण्डूरी

भुवन चन्द्र खण्डूरी जिन्हें मेजर जनरल बी. सी. खण्डूरी के नाम से भी जाना जाता है, भारत के उत्तराखण्ड राज्य की तीसरी विधानसभा के सदस्य हैं। वो राजनैतिक दल भारतीय जनता पार्टी के सदस्य के रूप में उत्तराखण्ड विधानसभा की धूमाकोट सीट का प्रतिनिधित्व करत ...

मनोज दास

मनोज दास जन्म 1934 ओड़िआ साहित्य के बीसवीं सताब्दी के उत्तरार्द्ध के प्रमुख कहानीकार हैं। उनकी पहली कहानी ‘समुद्रर क्षुधा’ 1947 में प्रकाशित हुई थी। हालाँकि शुरू के दिनों में उन्होंने कविता, भ्रमण कहानी तथा रम्यरचना लिखा है पर उनकी साहित्य-साधना ...

महबूब उल हक

महबूब उल हक़ पाकिस्तानी गेम सैद्धान्तवादी, अर्थशास्त्री और वैश्विक विकास सिद्धान्तवादी थे जिन्होंने 10 अप्रैल 1985 से 28 जनवरी 1988 तक पाकिस्तान के 13वे वित्त मंत्री के पद पर सेवायें दी।

युसुफ अली कचेरी

युसुफ अली कचेरी, भारत के केरल राज्य से मलयालम भाषा के एक कवि, गीतकार, फिल्म निर्माता और निर्देशक है। वे मलयालम कविता के आधुनिक युग के प्रमुख कवियों में से एक है और मलयालम साहित्य पुरस्कार, केरल साहित्य अकादमी पुरस्कार, वल्लथोल पुरस्काऔर बालमणि अम ...

यूरी गगारिन

यूरी गगारिन, भूतपूर्व सोवियत संघ के हवाबाज़ और अंतरिक्ष यात्री थे। १२ अप्रैल, १९६१ को अंतरिक्ष में जाने वाले वे प्रथम मानव थे। अन्तरिक्ष की यात्रा करने के बाद गगारिन अंतर्राष्ट्रीय प्रतिष्ठित व्यक्ति बन चुके थे और उन्हें कई तरह के पदक और खिताबों ...

वी॰ एस॰ रमादेवी

वी॰ एस॰ रमादेवी एमए, एलएलएम, २६ नवम्बर १९९० से ११ दिसम्बर १९९० तक भारत की मुख्य चुनाव आयुक्त रहीं। वो प्रथम महिला थी जिन्होंने भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त का पदभार सम्भाला। उनके बाद टी एन शेषन मुख्य चुनाव आयुक्त बने।

रूमा गुहा ठाकुरता

रूमा गुहा ठाकुरता एक भारतीय बंगाली अभिनेत्री और गायिका है। उनका जन्म १९३४ में कोलकाता में हुआ था। उन्होंने १९५८ में कलकत्ता यूथ चोइर की स्थापना की। वह सत्येन घोष की बेटी हैं और उनकी माँ गायिका सती देवी थीं। उनकी शादी १९५१ में किशोर कुमार से हुई थ ...

रॉस ब्राउन (रग्बी यूनियन)

रॉस हैंडली ब्राउन न्यूज़ीलैण्ड रग्बी यूनियन फुटबॉल खिलाड़ी थे। उन्होंने १९५५ से १९६२ तक न्यूज़ीलैण्ड नेशनल रग्बी यूनियन फुटबॉल टीम की ओर से १६ टेस्ट मैच खेले। २० मई २०१४ को उनका ७९ वर्ष की आयु में निधन हो गया।

लांस गिब्स

लांस गिब्स वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर है। वह स्पिन गेंदबाजी किया करते थे। 1958 से 1976 तक खेलें 79 टेस्ट मैचों में उन्होंने 309 विकेट लिये। 300 विकेट लेने वाले वे फ्रेड ट्रूमैन के बाद सिर्फ दूसरे गेंदबाज थे। उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्या ...

लिओनार्ड कोहेन

लिओनार्ड कोहेन एक कनाडाई गायक, संगीतकार, गीत लेखक और कवि थे। कोहेन की उपलब्धियों को देखते हुए उन्हें कनाडा सरकार द्वारा सर्वोच्च नागरिक सम्मान ऑर्डर ऑफ कनाडा द्वारा सम्मानित किया गया। कोहेन ने 1950 के दशक में बतौर कवि और उपन्यासकार अपना करियर शुर ...

लियोनिद क्रावचुक

लियोनिद मकरोविक क्रावचुएक यूक्रेनी राजनेता और यूक्रेन के पहले राष्ट्रपति हैं, जिन्होंने ५ दिसंबर १९९१ से १९ जुलाई १९९४ अपने इस्तीफे तक राष्ट्रपति रहे।

वहीद अख़्तर

वहीद अख़्तर एक प्रमुख शायर एवं लेखक हैं इनका जन्म 12 अगस्त 1934 को औरंगाबाद में हुआ। मर्सिया को नया मुकाम देने में अहम भूमिका निभाई। पत्थरों का मुग़ानी, ज़ंजीर का नग़मा आदि इनके प्रमुख संग्रह हैं। इनकी मृत्यु13 दिसंबर 1996 को हुई।

वीरभद्र सिंह

वीरभद्र सिंह भारत गणराज्य के राज्य हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हैं। वीरभद्र सिंह छ: बार हिमाचल प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री रहे चुके है। मनमोहन सिंह के नेतृत्व में २८ मई २००९ को इस्पात मंत्री बनाए गये थे। वह १९६२, १९६७, १९७२, १९८० और २००९ म ...

शरत पुजारी

द्रुस्ति १९९० माटिरा मणिशा १९६६ – बारजू का १९६६ शेष दृष्टि १९९७ – केदार बाबू जीवन साथी १९६२ – शरत भूखा १९८९ – १९८९ तपोई १९७८ – निर्देशक अस्तराग १९८२ – निर्देशक अरुन्धती १९६७ – मनोज अशान्त ग्रह १९८२ – निर्देशक अरण्य रोडन १९९२ अरन्यक – राजा साहेब

शांता कुमार

शांता कुमार हिमाचल प्रदेश के भूतपूर्व मुख्यमंत्री और भारत सरकार के भूतपूर्व मंत्री है। वह भारतीय जनता पार्टी के एक नेता है। १९७७ में वह पहली बार हिमाचल प्रदेश के गैर - कांग्रेसी मुख्यमंत्री बने। 1982 में वह पुनः विधानसभा में लौटे और प्रतिपक्षी सद ...